ये हैं शनि अमावस्या के सरल‍तम उपाय

shani remedy at time of Eclipse

shani remedy

shani remedy

यूं तो आप शनिवार का व्रत वर्ष के किसी भी शनिवार के दिन शुरू कर सकते हैं। लेकिन शनिश्चरी अमावस्या का दिन समस्त कष्टों के निवारण के लिए विशेष महत्व रखता है। जिन जातकों पर शनि की साढ़ेसाती चल रही है, ढैया से प्रभावित है या जिनकी कुंडली में शनि की दशा चल रही है, वे शनि की कृपा पाने के लिए ये सरल उपाय कर सकते हैं।

सरल‍तम उपाय

* शनिवार का व्रत रखें।

* शनिवार व्रत कथा पढ़ना भी लाभकारी रहता है।

* व्रत में दिन में दूध, लस्सी तथा फलों के रस ग्रहण करें।

* सायंकाल हनुमानजी या भैरवजी का दर्शन करें।

* काले उड़द की खिचड़ी (काला नमक मिला सकते हैं) या उड़द की दाल का मीठा हलवा ग्रहण करें।

* व्रत के दिन शनि देव की पूजा (कवच, स्तोत्र, मंत्र जप) करें।

जानिए शनि देव को प्रसन्न करने के उपाय !

बजरंग बली से जुडी हुई पौराणिक कथाएं !

You May Also Like