शनि की साढ़े साती आए तो करें यह उपाय

shani sade sati

shani sade sati :

shani sade sati, shani sade shati ke upaay, shani sade sati remedies, remedies for shani sade shati

जिस व्यक्ति की कुंडली में सूर्य की राशि में शनि हो (shani sade sati)उस व्यक्ति को जीवनभर कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। किसी व्यक्ति की कुंडली में चार, आठ या बारहवें भाव में शनि है तो उस व्यक्ति को शनि की कृपा प्राप्त होती है। शनि नीच राशि में या अस्त या वक्री हो तो व्यक्ति को दुख और कष्ट ही देता है। शनि मकर व कुंभ राशि का स्वामी है। अक्सर यह सुनने में आता है कि फला जातक को शनि की साढ़े साती लग गई।
यह करे :-

ये भी पढ़े... मंगलवार को करें ये काम, बजरंग बली लगाएंगे बेड़ा पार !

shani sade sati :

– हर शनिवार को तेल का दान करें। तेल का दान करने के लिए एक कटोरी में तेल लें और उस तेल में अपना मुंह देखकर उसका दान करें।
– यदि आप चाहें तो काले घोड़े की नाल से बना छल्ला भी मध्यमा उंगली में धारण कर सकते हैं। यह छल्ला शनिवार के दिन धारण करना चाहिए।
– हर मंगलवार और शनिवार को हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमानजी को सिन्दूर और चमेली का तेल अर्पित करें।
– हर शनिवार पीपल के वृक्ष का पूजन करें। जल चढ़ाएं। 7 बार परिक्रमा करें।
– हर शनिवार शनि मंत्र का जप करें।

इस मंत्र का जाप करे

मंत्र : ॐ शं शनैश्चराय नम:। इस मंत्र का जप कम से कम 108 बार करना चाहिए।

वृक्ष है पर नहीं है उसकी छाया, यही तो है शनि देव की माया ..जानिए !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *