हनुमानजी को प्रसन्न करने के उपाय

hanuman ji ko khush karne ke upay

hanuman ji ko parson karnay ke upay, हनुमान जी को प्रसन्न कैसे करे, हनुमानजी की पूजा, हनुमान जी की पूजन विधि, हनुमान जी को खुश करने के उपाय

hanuman ji ko khush karne ke upay :

कलियुग में रामभक्त हनुमानजी को प्रत्यक्ष जीवित एवं अमर रहने का वरदान प्राप्त है और इसीलिए उनको चिरंजीवी भी कहा गया है. बजरंग बलि भक्तों की प्रार्थना सुनकर स्वयं उनकी समस्याओं को दूर कर उनकी रक्षा करते है।

सप्ताह में मंगलवार और शनिवार हनुमानजी के दिन माने गए हैं, यही कारण है कि मंगलवार और शनिवार को हनुमान मंदिरों में भक्तों की भीड़ अन्य दिनों की अपेक्षाकृत अधिक दिखाई देती है।

आइए हम आपको बताते हैं हनुमानजी के विशेष उपाय, जिनसे आप हनुमानजी को प्रसन्न कर उनकी कृपा प्राप्त कर सकते हैं और यह उपाय करने से निश्चित रूप से आपकी हर समस्या का समाधान हो जाता है। तो एक बार अवश्य आजमाइए ये खास उपाय…

हनुमानजी को प्रसन्न करने के उपाय

सब सुख लहैं तुम्हारी सरना,
तुम रक्षक काहू को डरना

हनुमान जी को प्रसन्न करने का पहला उपाय (hanuman ji ko khush karne ke upay):

सवा किलो उड़द की दाल और ढाई सौ ग्राम काली तिल को मिलाकर आटा पीस लें।

अब प्रति मंगलवार इस आटे को गूंथकर दीपक बनाएं और 11 मंगलवार तक बढ़ते हुए क्रम में हनुमानजी को अर्पित करें, जैसे पहले दिन एक दीपक, दूसरे दिन दो, तीसरे दिन तीन दीपक लगाएं…, इसी तरह 11 दिनों तक 11 दीपक लगाएं।

लेकिन ध्यान रहे कि यह दीपक सरसों के तेल में ही लगाए गए हों। जब 11 दिन पूरे हो जाएं तो घटते क्रम में दीपक लगाना शुरू कर दें। इस उपाय को करने से आपकी हर समस्या से आप छुटकारा पा सकते हैं। चाहे फिर कर्ज मुक्ति हो, घर या व्यापार की समस्या या फिर अन्य समस्या के शीघ्र ही आपको शुभ परिणाम प्राप्त होंगे।

हनुमान जी को प्रसन्न करने का दूसरा उपाय (hanuman ji ko khush karne ke upay):

अगर आप अनावश्यक रूप से होने वाले खर्चों से परेशान है और उनसे निजात पाना चाहते हैं तो एक गोमती चक्र, एक नारियल पर सिंदूर लगाकर मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में अर्पित करें।

इससे आपकी कीमती कमाई व्यर्थ खर्च नहीं होगी।

हनुमानजी को प्रसन्न करने के उपाय

हनुमान जी को प्रसन्न करने का तीसरा उपाय (how to make hanuman ji happy):

घर या व्यापार में अगर आप नकारात्मक ऊर्जा महसूस करते हैं या किसी की बुरी नजर व जादू-टोने से उसे बचाना हो तो आप यह टोटका आजमा सकते हैं…

मंगलवार के दिन मंदिर जाकर हनुमानजी के बाएं पैर एवं बाएं कंधे का सिंदूर लेकर आएं। अब इस सिंदूर से घर या ऑफिस के मुख्य द्वार के बाहर ऊपर की तरफ श्रीराम लिख दें।

ऐसा करने से आपके घर या ऑफिस पर लगी बुरी नजर एवं किसी भी प्रकार के जादू-टोने का असर समाप्त हो जाएगा और हनुमानजी स्वयं उसकी रक्षा करेंगे।

हनुमान जी को प्रसन्न करने का चौथा उपाय :

किसी भी खास मुहूर्त में या त्यौहार या विशेष तिथि पर हनुमान जी का पूरा शृंगार अपनी श्रद्धा अनुसार करवाना चाहिए।

मिठाई: हनुमान जी को मिठाई भी अर्पित करनी चाहिए। मिष्ठान्न अर्पित करने पर भी देवी-देवताओं की प्रसन्नता प्राप्त होती है।

पांच प्रकार के फल: पूजन कर्म में फल चढ़ाने की भी विशेष परंपरा है। अत: हनुमान जी को भी किसी भी प्रकार के पांच मौसमी फल चढ़ाने चाहिए।

पान: हनुमान जी को लगा हुआ मीठा बनारसी पान भी चढ़ाया जाता है। पान में लौंग भी लगाएं

धूप-बत्ती: अगरबत्ती और धूप आदि चढ़ाने से सभी देवी-देवताओं की कृपा शीघ्र ही प्राप्त हो जाती है।

नारियल: किसी भी पूजन कर्म में नारियल का विशेष स्थान है। अत: हनुमान जी को भी नारियल विशेष रूप से चढ़ाना चाहिए।

गुलाब के फूल:देवी-देवताओं की कृपा प्राप्ति के लिए उन्हें पुष्प-हार चढ़ाना श्रेष्ठ विकल्प माना जाता है।

सिंदूर और चमेली का तेल: सिंदूर और चमेली के तेल से ही हनुमान जी का श्रंगार किया जाता है।

 

hanuman2

हनुमान जी को प्रसन्न करने का पांचवा उपाय :

अगर आप अपने आसपास, ऑफिस या कहीं भी अपने दुश्मनों से परेशान हैं तो प्रतिदिन बजरंग बाण का पाठ करने से लाभ होगा क्योंकि हनुमानजी खुद दुश्मनों से आपकी रक्षा करते हैं।

हनुमान जी को प्रसन्न करने का छठा उपाय :

हनुमान जी के बारह नामों की महिमा

राम भक्त, महाबल, महावीर हनुमान, बजरंग बली, शंकर सुमन, केसरी नंदन, अंजनी पुत्र, पवन सुत, अमित विक्रम, समेष्ट, लक्ष्मण, प्राण दाता प्रात:काल उठते ही जिस अवस्था में हैं, इन बारह नामों को ग्यारह बार लेने वाला व्यक्ति दीर्घायु होता है।

नित्य नियम के समय नाम लेने वाला व्यक्ति पारिवारिक सुखों से तृप्त होता है।

रात्रि को सोते समय नाम लेने वाला व्यक्ति शत्रुजित होता है।

उपरोक्त समय के अलावा इन बारह नामों का निरंतर जाप करने वाले व्यक्ति की श्री हनुमान जी महाराज दसों दिशाओं से एवं आकाश-पाताल से रक्षा करते हैं।

यात्रा के समय एवं न्यायालय में पड़े विवाद के लिए बारह नाम अपना चमत्कार दिखाएंगे।

लाल स्याही से मंगलवार को भोज पत्र पर ये बारह नाम लिखकर मंगलवार के ही दिन ताबीज बांधने से कभी सिरदर्द नहीं होगा। गले या बाजू में ताम्बे का ताबीज ज्यादा उत्तम है।

hanuman1

 

हर मंगलवार या शनिवार के दिन बजरंग बली को बना हुआ बनारसी पान चढ़ाना चाहिए। बनारसी पत्ते का बना हुआ पान चढ़ाने से भी हनुमान जी की कृपा प्राप्त होती है।

जो भक्त रामायण या श्रीरामचरित मानस का पाठ करते हैं या इनके दोहे प्रतिदिन पढ़ते हैं तो उन्हें हनुमान जी का विशेष स्नेह प्राप्त होता है।

नियमित रूप से हनुमान जी को धूप-अगरबत्ती लगाना चाहिए। हार-फूल अर्पित करना चाहिए।

हनुमान जी को फोटो घर में किसी पवित्र स्थान पर लगाएं। फोटो ऐसे लगाएं जिससे हनुमान जी दक्षिण दिशा की ओर देखते हुए दिखाई दें।

हर रोज रात के समय हनुमान जी के सामने तेल का दीपक लगाना चाहिए। इससे बहुत जल्द व्यक्ति का बुरा समय बदल जाता है। धन संबंधी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

हनुमान चालीसा की इन 5 चौपाइयों के जाप से, खत्म हो जायेंगे सभी दुःख

You May Also Like