क्या आप जानते है की भगवान शिव , विष्णु और ब्रह्मा के पिता कौन हैं?

lord shiva father name, god shiva father name, mirchi shiva father name, shiv ke pita ka naam, father name of lord shiv, bhagwan shiv father name, how lord shiva was born, bhagwan shiv shankar story in hindi, lord shiva father and mother name, father of lord shiva vishnu and brahma, how lord shiva was born, birth of lord shiva, how shiva was born, who is the father of lord shiva in hindi, god shiva father name, father of lord shiva

lord shiva father name, god shiva father name, mirchi shiva father name, shiv ke pita ka naam, father name of lord shiv, bhagwan shiv father name, how lord shiva was born, bhagwan shiv shankar story in hindi, lord shiva father and mother name, father of lord shiva vishnu and brahma, how lord shiva was born, birth of lord shiva, how shiva was born, who is the father of lord shiva in hindi, god shiva father name, father of lord shiva

father of brahma vishnu shiva :

देवताओ में त्रिदेव का सबसे अलग स्थान है जिसमे ब्रह्मा को सृष्टि का रचियता, भगवान् विष्णु को संरक्षक और भगवान् शिव को विनाशक कहा गया है. लेकिन हम कई बार सोचते है की त्रिदेव की उत्त्पत्ति कैसे हुई अर्थात कैसे उन्होंने जन्म लिया इस संसार में.

आइये जानते है इस रहस्य को एक अनोखे प्रसंग से ….

भगवान शिव ने एक बार सोचा – “अगर मै विनाशक हूँ तो क्या मै हर चीज का विनाश कर सकता हूँ ? क्या मै ब्रह्मा और विष्णु का विनाश भी कर सकता हूँ ? क्या उन पर मेरी शक्तियां कारगर होंगी?”

ये भी पढ़े... मंगलवार को करें ये काम, बजरंग बली लगाएंगे बेड़ा पार !

जब भगवान् शिव के मन में यह विचार आया तो भगवान् ब्रह्मा और विष्णु समझ गए कि उनके मन में क्या चल रहा है | वे दोनों मुस्कुराने लगे | ब्रह्मा जी बोले – “महादेव. आप अपनी शक्तियां मुझ पर क्यों नहीं आजमाते ? मै भी यह जानने के लिए उत्सुक हूँ कि आपकी शक्तियां मुझ पर कारगर हैं या नहीं |”

जब विष्णु भगवान् ने भी हठ किया तो भगवान् शिव ने सकुचाते हुए ब्रह्मा जी के ऊपर अपनी शक्तियों का प्रयोग कर दिया | देखते ही देखते ब्रह्मा जी जलकर भष्म हो गए | जैसे ही शिव जी ने अपनी शक्तियों का प्रयोग किया ब्रह्मा जी जलकर गायब हो गए और उनकी जगह एक राख का छोटा सा ढेर लग गया |

शिव जी चिंतित हो गए – “ये मैंने क्या किया ? अब इस विश्व का क्या होगा ?”

भगवान् विष्णु मुस्कुरा रहे थे | उनकी मुस्कान और भी चौड़ी हो गई जब उन्होंने शिव जी को पछताते हुए घुटनों के बल बैठते देखा |

ये भी पढ़े... घर के मंदिर में कभी भी ना करें ये गलतिया !

शेष अगले पेज पर पढ़े…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *