ज्योतिष शास्त्र, अपनी राशि के अनुसार किये इन उपायों से आप बदल सकते है अपनी किस्मत !

jyotish shastra gyan in hindi | jyotish sikhe in hindi |

rashifal, rashifal in hindi, astrology, astrology in hindi, jyotish, jyotish shastra in hindi, horscope, hindu dharma, hindu jyotish gyan, divya gyan, jyotish vidya in hindi

Jyotish shastra gyan:

यदि कोई व्यक्ति इस भ्रम में है की आज के इस आधुनिक युग में ज्योतिष का कोई मोल नहीं तो यह उसकी मूर्खता है. आज हमारे समाज में कुछ ठगों के कारण यह मिथ्या फैल गयी है की ज्योतिष शास्त्र (jyotish shastra ) बरगलाने का जरिया है इससे ज्यादा कुछ नहीं. लेकिन सच यह की ज्योतिष शास्त्र की महत्ता पौराणिक काल से लेकर वर्तमान तक कहि भी काम नहीं रही है. पहले और आज अंतर बस इतना रह गया है की पहले यह विद्या समाजिक हित में कार्य करने के लिए होती है, आज पैसा कमाने के लिए.

यही कारण है की आज बाजार में इस विद्या को लेकर ठगी होती है जिसके कारण वास्तविक ज्ञाता भी इस श्रेणी में धकेल दिए जाते है.

ज्योतिष मात्र (jyotish shastra ) पैसे से चलने वाली विद्या नहीं है और ये बात साबित करने के लिए हम आपको आपकी राशि के अनुसार कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे है जिन्हे करने के आप एक अच्छा और सुखमय जीवन प्राप्त कर सकते हो.

Jyotish shastra gyan in Hindi:

सबसे पहली और महत्वपूर्ण बात यह की इन सभी उपायों को करने में आपका एक पैसा भी खर्च नहीं होगा.

मेष राशि :- अगर आप मेष राशि से संबंध रखते हैं तो आपको अपने मूड स्विंग यानि बात-बात पर मूड बदलने के स्वभाव से बचना चाहिए. शीघ्र क्रोध, अनियमितता, अंधभक्ति से जितना दूर रहेंगे उतना अच्छा होगा आपके लिए.

वृष राशि :- इस राशि के जातको को सर्वप्रथम अपने आलस्य को त्यागना चाहिए . इसके आल्वा यदि इस जाती के लोग क्रोध, भौतिकतावादी और स्वार्थ से दूर रहे तो निश्चित ही कोई इन्हे धनवान बनने से नहीं रोक सकता.

jyotish shastra

मिथुन राशि :- इस राशि के लोगो का केवल एक ही समय में दो तरह के कार्यो को करने से बचना चाहिए. ज्यादा बाते करना भी आपको मुश्किल में डाल सकता है. आपके अंदर एकाग्रता का अभाव है जो आपके लिए नकरात्मक हो सकता है.

कर्क राशि :- आपके भीतर पनप रहा गुस्सा और जिद आपको नुक्सान पहुंचा सकते है .आत्मप्रशंसा के साथ-साथ दूसरों की खुशामद करने से भी आपको बचना चाहिए. स्वयं को नैसर्गिक तौर पर अपनाएं, बनावटी लहजा आपके लिए सही नहीं है.

सिंह राशि :- बेवजह की चतुराई दिखाना और कमीशन के काम में हाथ आजमाना आपको भारी पड़ सकता है. आपको झूठ बोलने और चुगलखोरी करने से भी बचना चाहिए.

कन्या राशि :- अपने सिवा अन्य लोगों में कमी ढूंढ़कर आप अपने लिए समस्याएं बढ़ा रहे हैं. आलोचना, संदेह, क्रोध, इन सबसे आपको दूर रहना चाहिए.

तुला राशि :- शीघ्र निर्णय ने ले पाने का स्वभाव आपके लिए हनिकारक हो सकता है. सौंदर्य पर अधिक व्यय करना, दूसरों पर जल्दी भरोसा करना, दूसरों के लिए त्याग करना, इन सब से आपको बचना चाहिए.

वृश्चिक राशि :- इस राशि के जातको को दूसरों की व्यंगात्मक आलोचना करने से बचना चाहिए. बेवजह क्रोध एवं अवसरवादिता से जितना बच सके उतना अच्छा है.

धनु राशि :- वाचालता और लगातार भाषण देने से बचें. किसी का अपमान (गलती से या जानबूझकर) करना आपको नुकसान पहुंचा सकता है.

मकर राशि :- इस राशि के जातको को आत्मप्रशंसा, दिखावा और भावहीनता के अलावा स्वार्थ, अधीरता और वाचलता से भी बचना चाहिए.

कुंभ राशि :- इस राशि को अपना स्वभाव लगभग 100 प्रतिशत परिवर्तित करना चाहिए. सक्रियता और शीघ्रता आपको फल दे सकती है. आपको एकांतवास, उदास रहने और कठोरता से बचना चाहिए.

मीन रही :- अनिश्चित विचार और कमजोर संकल्प आपको मुश्किल में डाल देते है, इसलिए आपको इससे जरूर किनारा कर लेना चाहिए. खर्च पर नियंत्रण करना आपके लिए बहुत जरूरी है.

Read Also:

ज्योतिष शास्त्र के सिद्ध एवं अचूक उपाय, राशियों के अनुसार इन उपायों से होगी आपके ऊपर धन वर्षा.

You May Also Like