यदि आप चाहते शनि के विशेष कृपा तो अपनाए ये 10 सिद्ध उपाय !

यमराज यदि मृत्यु के देवता हैं, तो शनि कर्म के दंडाधिकारी हैं. गलती जाने में हुई हो या अनजाने में, दण्ड तो भोगना ही पड़ेगा.
शनिवार का व्रत करने वाले शनिभक्त को प्रातः ब्रह्म मुहूर्त में स्नान करके शनिदेव की प्रतिमा की विधि-विधान से पूजन करनी चाहिए. ऐसा करने से शनिदेव भक्त पर अपनी कृपा बरसाते हैं.

कहते हैं जिस व्यक्ति पर शनि की ढैया या साढ़ेसाती हो या फिर जाे कुंडली में शनि के अशुभ प्रभाव के कारण किसी रोग से पीड़ित है अगर वे इन उपायों को आजमाते हैं तो उसे शनिदेव की विशेष कृपा की प्राप्ति होती है और सारे कष्ट दूर हो जाते हैं.

1. दोनों समय भोजन में काला नमक और काली मिर्च का प्रयोग करें.

2. शनिवार के दिन बंदरों को भुने हुए चने खिलाएं और मीठी रोटी पर तेल लगाकर काले कुत्ते को खाने को दें.

3. यदि शनि की अशुभ दशा चल रही हो तो मांस-मदिरा का सेवन न करें.

You May Also Like