रामायण काल में हनुमान जी से हुई यह एक गलती, जिसकी सजा आज भी सहती है इस गाव की महिलाएं !

पवन पुत्र हनुमान जी की शक्ति एवं महिमा अपरम्पार है हर जगह हनुमान जी के भक्त उनकी भक्ति में रंगा रहते है. परन्तु क्या आप जानते है की एक ऐसा भी गाव है जहां हनुमान जी के द्वारा की गई एक गलती के कारण वहां के लोग विशेषकर महिलाएं हनुमान जी से नाराज है.

रामायण काल में घटित इस घटना ने इस गाव में एक अजीब सी प्रथा को जन्म दे दिया है जिस कारण यहाँ की महिला अत्यधिक परेशान रहती है और इस परेशानी का दोष वे हनुमान जी को देती है.

आइये आज हम आपको गाँव की उस अजीब सी प्रथा एवं हनुमान जी द्वारा की गई उस एक गलती के संबंध में बतलाते है.

उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में एक द्रोणागिरि नामक गाव 14000 फुट की उच्चाई पर स्थित है. इस दुर्गम गाव में सभी भगवान देवी-देवताओ की पूजा की जाती सिर्फ एक भगवान को छोड़कर और वे है संकटमोचन पवन पुत्र हनुमान जी.

लक्ष्मण जी के उपचार के लिए संजीवनी बूटी लाकर हनुमान जी भगवान श्री राम एवं वानर सेना के लिए तो हीरो बन गए परन्तु इस गाव के सभी लोग हनुमान जी से नाराज है.

द्रोणागिरि के लोग आज तक हनुमान जी की उस एक गलती के लिए उन्हें माफ़ नहीं कर पाये है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *