व्यापर एवम घर में लग रही बुरी नज़र को तुरन्त दूर करता हे ये चमत्कारी यन्त्र | vastu dosh nivaran yantra in hindi

वास्तु यंत्र वास्तुदोष निवारण यंत्र घर का मुख्य द्वार और वास्तु वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय ईशान कोण के उपाय वास्तु दोष उपाय vastu dosh nivaran mantra in hindi वास्तुदोष निवारण यंत्र ईशान कोण के उपाय

वास्तु यंत्र, वास्तुदोष निवारण यंत्र, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, ईशान कोण के उपाय, वास्तु दोष उपाय, vastu dosh nivaran mantra in hindi, वास्तुदोष निवारण यंत्र, ईशान कोण के उपाय, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, वास्तु दोष दूर करने के उपाय, दक्षिण दिशा का वास्तु, वास्तु मंत्र

vastu dosh nivaran yantra  in hindi

वास्तु से अभिप्राय

वास्तव में वास्तु शास्त्र विज्ञान से जुड़ा हुआ है तथा इसका उपयोग व्यापार ऑफिस अथवा घर में समृद्धि, उन्नति, प्रगति, सुख-शांति के सामंजस्य को प्राप्त करने के लिए किया जाता है. वास्तु शास्त्र हमारे आस पास की फैली ऊर्जा में से नकरात्मक ऊर्जा को दूर कर सकरात्मक रुजा द्वारा एक कवच का निर्माण करता है जो हमारी नकरात्मक उर्जाओ से रक्षा करता है.

वास्तु यंत्र, वास्तुदोष निवारण यंत्र, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, ईशान कोण के उपाय, वास्तु दोष उपाय, vastu dosh nivaran mantra in hindi, वास्तुदोष निवारण यंत्र, ईशान कोण के उपाय, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, वास्तु दोष दूर करने के उपाय, दक्षिण दिशा का वास्तु, वास्तु मंत्र
vastu dosh nivaran yantra in hindi

वास्तु के उपयोग एवम फायदे

यदि हम आपको सीधे कहे की व्यक्ति के परिवार की खुसिया वास्तु में छुपी हुई है अर्थात वास्तु घर में खुसियो का कारण है तो शायद आप इस बात आसानी से यकीन न कर पाए परन्तु यदि आप वास्तु का सही मतलब जान जाये तो अवश्य ही आपको हमारी बातो पर यकीन होने लगेगा.

वास्तव में वास्तु का सही अर्थ चारो दिशाओ से आने वाली तरंगो तथा ऊर्जा को सन्तुलन परन्तु कई बार ऐसा होता ही की इसके असन्तुलन से अनेक दुष्परिणाम हमारे लिए मुसीबत का कारण बनते है.

आज हम आपको बतलायेंगे की इन दुष्परिणामो से आप कैसे अपने आपको बचा सकते है. यानी आप कैसे वास्तु दोष का सामना कर सकते है. अपने घर में कैसे खुशिया ला सकते, व्यापार में तरक्की पा सकते है तथा इसके साथ ही कैसे वास्तु दोष के दुष्परिणामो से बचा जा सकता है.

 

वास्तु दोष निवारण यन्त्र

यह सभी यंत्र का उपयोग वास्तव में हमारे जीवन में सन्तुलन और हमारे बाहरी तथा आंतरिक वास्तु में सामंजस्य बनाये रखने के लिए होता है ताकि इस प्रकार से हमारे जीवन में अधिक से अधिक खुशिया रहे.

वास्तु यंत्र, वास्तुदोष निवारण यंत्र, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, ईशान कोण के उपाय, वास्तु दोष उपाय, vastu dosh nivaran mantra in hindi, वास्तुदोष निवारण यंत्र, ईशान कोण के उपाय, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, वास्तु दोष दूर करने के उपाय, दक्षिण दिशा का वास्तु, वास्तु मंत्र
वास्तु पूजा अथवा वास्तु दोष पूजा

वास्तु यंत्र की पूजा के साथ-साथ पुरुष ब्रह्मा, विष्णु, महेश आदि देवता की पूजा के बाद अन्य देवी देवताओ की भी पूजा की जाती है . वास्तु पूजा के माध्यम से वातावरण में फैली हुई सभी बढ़ाओ को खत्म करके अनन्त खुशिया प्राप्त की जा सकती है. वास्तु अनहोनी, नुकसान और दुर्भाग्य से भी बचाता है. ये घर के साथ-साथ काम के स्थान पर भी उत्तर या पूर्व दिशा में स्थापित किया जा सकता हैं .

कैसे करे वास्तु दोष निवारण यंत्र की पूजा

सबसे पहले नहा -धोकर अपने मन को शांत करें. ये सुनिश्चित कर लें कि यंत्र इस प्रकार रखा हो की आप का मुंह पूर्व दिशा की ओर हो. वास्तु दोष निवारण यंत्र के आगे दीया जला दें. अगर हो सके तो यंत्र के आगे 2 – 3 ताजा फूल रख दें.
वास्तु दोष निवारण की लिए इस प्रकार करे बीज मन्त्र का जाप.
21 बार बीज मंत्र का जाप करें जो यन्त्र के साथ मिला हो. अगर आप संस्कृत नहीं जानते, तो हिंदी या इंग्लिश में भी आप इसका जाप कर सकते हैं. अब आप जो कुछ भी अपने दिल की इच्छा से मांगना चाहते है उन्हें ऊंची आवाज में बोलकर अपनी पूजा को समाप्त करें.

वास्तु यंत्र, वास्तुदोष निवारण यंत्र, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, ईशान कोण के उपाय, वास्तु दोष उपाय, vastu dosh nivaran mantra in hindi, वास्तुदोष निवारण यंत्र, ईशान कोण के उपाय, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, वास्तु दोष दूर करने के उपाय, दक्षिण दिशा का वास्तु, वास्तु मंत्र
बीज मन्त्र वास्तु दोष के लिए

बीज मंत्र जो वास्तु दोष निवारण यंत्र के साथ पढ़ा जाता है – “ओम आकर्षय महादेवी राम राम प्रियं हे त्रिपुरे देवदेवेषि तुभ्यं दश्यमि यंचितम ”

क्या है वास्तु दोष निवारण यंत्र का महत्व

वास्तु दोष निवारण यंत्र अन्यन्त शक्तिशाली यंत्र है. ये यंत्र किसी भी घर अथवा ऑफिस के वास्तु में उतपन्न होने वाले दोष को पहचान कर उसका शीघ्र निवारण करता है. वास्तु दोष निवारण यंत्र एक ऐसा यंत्र है जो सभी पांच तत्वों-पृथ्वी, जल, वायु, अग्नि और अंतरिक्ष के बीच संतुलन बनाकर हमारे घर और काम के स्थान पर समृद्धि, मानसिक शांति , खुशी और सामंजस्य को प्राप्त करने में मदद करता है.

वास्तु यंत्र, वास्तुदोष निवारण यंत्र, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, ईशान कोण के उपाय, वास्तु दोष उपाय, vastu dosh nivaran mantra in hindi, वास्तुदोष निवारण यंत्र, ईशान कोण के उपाय, घर का मुख्य द्वार और वास्तु, वास्तु दोष निवारण के कुछ सरल उपाय, वास्तु दोष निवारण के आसान उपाय, वास्तु दोष दूर करने के उपाय, दक्षिण दिशा का वास्तु, वास्तु मंत्र
वास्तु दोष निवारण यंत्र का महत्व

वास्तु यंत्र इमारत, कमरे, दरवाजे, खिड़कियां, फर्नीचर आदि के स्थान के से संबंधित लगभग हर दोष पर काबू पा लेता हैं. ये यंत्र लगभग सभी मौजूदा वास्तु दोष के घर, कार्यालय या व्यापार पर पड़े बुरे प्रभावों को घटाता हैं. इन सब बातों का इलाज आसानी से संभव नहीं हो सकता. वास्तु यंत्र न केवल सभी निहित वास्तु दोष का इलाज करके उनके बुरे प्रभावों को दूर करने में मदद करता है , बल्कि सकारात्मक और लाभदायक प्रभाव को भी उत्पन्न करता हैं .

office ke vastu dosh ko sur krne ka upay

vastu for coloure


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *