what are the best vastu tips for dustbin?

Vastu tips for dustbin in hindi

vastu tips for dustbin in hindi,

दोस्तों  vastu tips for dustbin के अनुसार डस्ट- बिन से भी वास्तु दोष उत्त्पन हों सकता हैं. इसलिए ये जानना बेहद जरुरी हों जाता हैं. की डस्टबिन के लिए कोनसी दिशा और दशा होनी चाहिए !

डस्टबिन किस दिशा में नहीं होना चाहिए ?

First vastu tips for dustbin: पहली चीज ईशान कोना (ईशान कोने का तात्पर्य हैं उतर -पूर्व ) में बिलकुल नहीं होना चाहिए. क्योंकी वो पूजा का स्थान होता हैं. ना पूर्व में होना चाहिए क्योकि वो एनर्जी का स्थान होता हैं. ना आपका पूर्व -पछिम में होना चाहिए. वो अग्नि का स्थान होता हैं.

डस्टबिन किस दिशा में होना चाहिए ?

डस्टबिन आप पच्छिम में बना सकते हैं. दक्षिण -पच्छिम में बना सकते हैं. और उत्तर -पच्छिम में बना सकते हैं. ये 3 डायरेक्शन हैं. जो वास्तु (vastu)के अनुसार बहुत शुभ हैं.

Second vastu tips for dustbin: दूसरी चीज मैं आपको बताना चाहूंगा. जो आपके घर या ऑफिस का प्रवेश द्वार हैं. वह पर भी वास्तु(vastu) के अनुसार कभी भी डस्टबिन नहीं रखना चाहिए ! क्योकि जब भी किसी के घर में एंटर करते हैं. और घर के बहार डस्टबिन देखते हैं. तो ये बहुत गलत प्रभाव डालता हैं.

इसके अल्वा ये नेगेटिव एनर्जी लाता हैं. इसलिए इसे गलती से भी बहार ना रखे ! और अगर आपको किसी कारण वर्ष आपको डस्टबिन बहार रखना पर जाये. तो इसे ऐसे रखे की बहार से आने वाले आदमी को ये नजर ना आये.

Third vastu tips for dustbin: वास्तु (vastu)शास्त्र कहता हैं. आपका डस्टबिन कभी भी खुला नहीं होना चाहिए. क्योकि खुला डस्टबिन कूड़े की महक ज्यादा फैलता हैं. जो वास्तु दोष को बड़ाता हैं. इसलिए हमेशा ढकन वाला डस्टबिन इस्तमाल करे .

Fourth vasti tips for dustbin: इस बात का ध्यान रखे की आपका डस्टबिन हमेशा साफ-सूत्रा रहे ,ज्यादातर लोग अपने घर के डस्टबिन को साफ़ नहीं रखते. लेकिन वह भी घर के बाकि सामान की तरह आपके घर की एक वास्तु हैं. इसलिए इसे हफ्ते में एक बार अवश्ये अच्छे से साफ़ करे.

Fifth vastu tips for dustbinडस्टबिन का रंग : घर के डस्टबिन का रंग हमेशा हल्का होना चाहिए. जैसे की पिंक रंग का ज्यादा भारी रंग के डस्टबिन वास्तु शास्त्र में अशुभ माने गए हैं. जिनसे वास्तु(vastu) दोष उत्पन होता हैं. और बुरा प्रभाव पड़ता हैं.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *