9 Bhog for Nav Durga माँ दुर्गा के 9 भोग

माँ दुर्गा के 9 भोग:

नवरात्रि(Navratri) में देवी उपासना के नौ दिन नौ शक्तियों का प्रतीक हैं.नवरात्रि( Navratri) के नौ भोग प्रतीक हैं देवी की अनंत कृपा पाने के नौ दिन हर दिन देवी की उपासना के साथ देवी को अर्पित किया जाने वाला प्रसाद भी हमारी पूजा को सफल करने में बड़ी भूमिका निभाता हैं.सभी देवियो का एक पसंदीदा खाद्य पदार्थ हैं,यदि उसे देवी को उनके दिन विशेष अर्पित किया जाये तो माँ अवश्य प्रसन्न होकर मनोकामना पूर्ण करती हैं.

शैलपुत्री :शैलपुत्री को घी बहुत प्रिय हैं ,इसलिए माता को प्रसाद में घी का भोग अवश्य अर्पित करे. इससे आप रोग आदि से मुक्त रहेंगे और परिवार में भी सभी सदस्य स्वस्थ और निरोग रहेंगे

ब्रह्मचारिणी:माँ ब्रह्मचारिणी दुर्गा का दूसरा रूप हैं , माँ को प्रसाद में चीनी का भोग अवश्य लगाए ,इससे परिवार में अकाल मृत्यु की सम्भावना समाप्त हो जाती हैं.

चंद्रघंटा : शीश पर अर्धचंद्र विराजे माँ चंद्रघंटा दुर्गा का तीसरा स्वरुप हैं. माँ चंद्रघंटा को दूध से बनी चीजे विशेष प्रिय हैं, इसलिए इन्हे दूध या दूध से बनी मिठाई या खीर का भोग लगाना चाहिए.

कुष्मांडा: देवी दुर्गा का चतुर्थ स्वरुप माँ कुष्मांडा हैं, देवी कुष्मांडा को मालपुए का भोग लगाने से माँ प्रसन्न होती हैं. और मनो कामना पूर्ण करती हैं.

स्कंदमाता: नवरात्रि के पांचवे दिन माँ स्कंदमाता की पूजा होती हैं, कार्तिकेय इनकी गोद में विराजमान हैं, माँ को पके हुए केले का भोग लगाना चाहिए ,और प्रसाद वितरित करे, माँ आपकी मनोकामना पूर्ण करेगी और रोग शोक से मुक्त करेगी.

 

कात्यायिनी : माँ दुर्गा का छठा स्वरुप देवी कात्यायिनी हैं ,इन्हे शहद बहुत प्रिय हैं ,इसलिए इन्हे शहद का भोग लगाए,इससे देवी की कृपा बनी रहती है.

कालरात्रि :देवी कालरात्रि को प्रलयंकारी माना गया हैं, देवी कालरात्रि सभी दुखो को दूर करने वाली देवी हैं.देवी कालरात्रि को गुड़ बहुत प्रिय हैं इसलिए इन्हे गुड़ का भोग लगाना चाहिए .

महागौरी: अष्टमी देवी माँ महागौरी हैं, इन्हे नारियल का भोग लगाना चाहिए,और गरीबो में प्रसाद वितरण करना चाहिए , माँ सारी मनोकामना को पूर्ण करती हैं.

सिद्धिदात्री: नवमी देवी माँ सिद्धिदात्री हैं,इन्हे सफ़ेद तिल बहुत प्रिय हैं.माँ को पूजा में सफ़ेद तिल या इससे बनी खाद्य वास्तु भोग में लगानी चाहिए, माँ सर्वमनोकामना पूरी करती हैं.

 

 

You May Also Like