करोड़पति बना देगा चावल का सिर्फ यह एक उपाय

crorepati banne ke upay 

पैसा या धन का मोह केवल अभी नहीं crorepati banne ke upay  बल्कि प्राचीन काल में भी था. तब चलती थीं सोने-चांदी की अशर्फियां. लेन-देन में उपयोग होते थे सोने-चांदी के जेवर भी. उस समय भी अमीर-गरीब होते थे. लोग अमीर बनने की कोशिशें भी करते थे. तब मेहनत के साथ ही चमत्कारी उपायों का चलन भी सर्वाधिक था. काफी लोग ऐसे उपाय करते थे. रातोंरात बदल जाती थी उनकी किस्मत. उस समय लोग चावल से मालामाल होने के चमत्कारी उपाय करते थे तो आइये जानते है ऐसा क्यों… crorepati banne ke upay

चावल को अक्षत भी कहा जाता है और अक्षत का अर्थ है अखंडित. जो टूटा हुआ न हो वही अक्षत यानि चावल माना गया है. शास्त्रों के अनुसार यह पूर्णता का प्रतीक है. इसी  crorepati banne ke upay वजह से सभी प्रकार के पूजन कर्म में भगवान को चावल अर्पित करना अनिवार्य माना गया है. इसके बिना पूजा पूर्ण नहीं मानी जाती है.

किसी भी दिन सुबह ब्रह्म मुहूर्त में उठें. सभी नित्य कर्मों से निवृत्त हो जाएं. इसके बाद लाल रंग का कोई रेशमी कपड़ा लें. अब उस लाल कपड़े में पीले चावल के 21 दानें रखें. ध्यान रहें चावल के सभी 21 दानें पूरी तरह से अखंडित होना चाहिए यानि कोई टूटा हुआ crorepati banne ke upay दाना न रखें. उन दानों को कपड़े में बांध लें.

crorepati banne ke upay(अमीर बनने के टोटके)

चावल को पीला crorepati banne ke upay करने के लिए हल्दी का प्रयोग करें. इसके लिए हल्दी में थोड़ा पानी डालें. अब गीली हल्दी में चावल के 21 दानें डालें. इसके बाद अच्छे से चावल को हल्दी में रंग लें. चावल रंग जाए इसके बाद इन्हें सुखा लें. इस प्रकार तैयार हुए पीले चावल का उपयोग पूजन कार्य में करें.

लाल कपड़े में 21 पीले चावल के दाने बांधने के बाद धन की देवी माता लक्ष्मी की विधि-विधान से पूजन करें. पूजा में यह लाल कपड़े में बंधे चावल भी रखें. पूजन के crorepati banne ke upay बाद यह लाल कपड़े में बंधे चावल अपने पर्स में छिपाकर रख लें. ऐसा करने पर महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है और धन संबंधी मामलों में चल रही रुकावटें दूर हो जाती हैं.

ऐसा करने पर धन संबंधी परेशानियां दूर crorepati banne ke upay होने लगेंगी. ध्यान रखें कि पर्स में किसी भी प्रकार की अधार्मिक वस्तु कतई न रखें. इसके अलावा पर्स में चाबियां नहीं रखनी चाहिए. सिक्के और नोट अलग-अलग व्यस्थित ढंग से रखे होने चाहिए. नोट के साथ बिल या अन्य पेपर न रखें. किसी भी प्रकार की अनावश्यक वस्तु पर्स में न रखें.

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general