गरीब को भी धनवान बनाने के लिए काफी है ”श्री कृष्ण के ये 13 आसान मन्त्र” !

how to be rich

श्री कृष्ण भगवान विष्णु के आठवें अवतार कहलाते है, श्री कृष्ण का लीलामय जीवन अनेक प्रेरणाओं और मार्गदर्शन से भरा हुआ है इसलिए भगवान श्री कृष्ण ( Bhagwan krishna) के भक्त न केवल सिर्फ़ भारत में बल्कि पुरे संसार में फैले हुए है. उनके भक्तो की संख्या करोड़ो अरबो में है यही कारण है की […]

जाने महाभारत के वे 5 प्रमुख श्राप, जिनका प्रभाव आज भी बना हुआ है !

mahabharat yudh ke baad ki kahani, mahabharat yudh ke baad, mahabharat yudh ke baad ki kahani hindi, mahabharat yudh story in hindi, mahabharat yudh place, mahabharat yudh full, mahabharat yudh kitne din chala, mahabharat yudh how many days, mahabharat ka yudh kitne dino tak chala, mahabharat war kitne din chala, mahabharat ka yudh kaha hua, mahabharat yudh story in hindi, mahabharat ka yudh in hindi,

हिन्दू धर्म ग्रंथो में अनेको श्रापो का वर्णन है तथा हर श्राप में कोई न कोई कारण छुपा था. कुछ श्राप में संसार की भलाई निहित थी तो कुछ श्राप का उनके पीछे छिपी कथाओ में महत्वपूर्ण भूमिका थी. आज हम आपको ऐसे 5 श्रापो के बारे में बताने जा रहे जिनका इतिहास में तो […]

यह नारियल का अचूक उपाय, शीघ्र प्रसन्न होती है देवी लक्ष्मी !

nariyal ke upay, nariyal ke totke, nariyal ke jyotish upay, nariyal ke totke hindi, laghu nariyal ke totke

Nariyal Ke Totke Hindi Me –  हिन्दू धर्म के मुताबिक पूजा में नारियल (nariyal ke totke hindi mei) बहुत महत्पूर्ण माना जाता है. घर की पूजा, नए घर क प्रवेश, नई गाडी, नया बिजनेस शुरू करना हो या किसी भी शुभ करना हो नारियल फोडकर किया जाता है. भारतीय सभ्यता में, पूजा-पाठ में नारियल को […]

70 साल के बाद इस कार्तिक पूर्णिमा चंद्रमा सबसे बड़ा दिखाई देगा

kartik purnima, purnima vrat katha in hindi, purnima vrat udyapan vidhi, kartik purnima vrat katha, kartik purnima 2017, kartik purnima images, kartik purnima kab hai, kartik purnima in hindi

कार्तिक पूर्णिमा: कार्तिक पूर्णिमा ( (kartik purnima)) का शास्त्रों में बहुत महत्व माना गया है। जो व्यक्ति इस दिन विधिपूर्वक पूजन करता है, उसके जीवन से सभी संतापों का अंत हो जाता है। जन्मकुंडली में जैसे भी दोष हों, उन्हें दूर करने के लिए ये दिन बहुत शुभ है। इस कार्तिक पूर्णिमा (kartik purnima)  को […]

Vat Savitri Vrat 2018 | वट सावित्री व्रत

भारतीय सभ्यता और संस्कृति में हर व्रत त्यौहार किसी न किसी पौराणिक कथा से जुड़ा जरूर होता हैं. वट सावित्री व्रत (vat savitri vrat )भी भारतीय महिलाओ का अपने अखंड सुहाग के प्रतीक का परिचायक हैं.महिलाये अपने पति और संतान की कामना हेतु इस व्रत को रखती हैं. वट सावित्री व्रत(vat savitri vrat) नारी के आदर्श […]

भगवद गीता की इन पंक्तियों में छुपा हैं आपकी सभी समस्या का हल

जीवन में कई प्रसंग ऐसे आते हैं जब हमें समस्याएँ सुलझाने , स्वयं से लड़ने के लिए एक जीने कि इच्छा की आवशकता होती हैं. और जिसके लिए हमें स्वयं में एक ऊर्जा उत्पन्न करनी होती हैं. मानव जब तक निस्तेज हैं वह एक शव के सामान हैं. भगवद्गीता वर्तमान समय में मानव जीवन की […]

जानिये निर्जला एकादशी का महत्व और इसके चमत्कारी लाभ !

nirjala ekadashi ke fayde,

जी हाँ दोस्तों निर्जला एकादशी के एक व्रत से.आपकी आने वाली 10 -10 पीढ़ियो का उद्धार हों सकता हैं.क्योंकी अगर आप आने वाली nirjala ekadashi 2017 का व्रत और पूजा विधि-विधानुसार करेंगे.तो आपको हों सकता हैं सुवर्णदान का फल प्राप्त.मित्रो सुवर्णदान का हमारे हिन्दू शास्त्रों में बड़ा महत्व हैं.ऐसा कहा जाता हैं जो भी ये […]

जानिये अपरा एकादशी के फायदे जो कर देंगे आपार धन वर्षा !

ekadashi ke fayde,

दोस्तों अगर आप एकादशी का व्रत करना चाहते हैं.और आप जानते हैं की आने वाली एकादशी कोनसी हैं.और इसे कैसे मनाना हैं.तो ये बहुत अच्छी बात हैं.लेकिन अगर आप नहीं जानते की इस माह की आने वाले एकादशी 22 मई 2017 को अपरा एकादशी के रूप में मनाई जायगी.तो चिंता की कोई बात नहीं हैं. […]

Akshaya Tirtiya Ka Mahatw Aur Pujan अक्षय तृतीया का महत्व और पूजन

“न क्षयति इति अक्षय” वैसे तो वर्ष में बारह महीनो की शुक्ल पक्ष की तृतीया शुभ होती हैं.पर वैशाख माह की शुक्ल पक्ष की तृतीया  अक्षय तृतीया( Akshaya Tirtiya )का विशेष महत्व हैं,इस दिन किये गए शुभ कार्य को श्रेष्ठ माना गया हैं.इस वर्ष अक्षय तृतीया(Akshaya Tirtiya ) 18 अप्रैल को मनाई जाएगी.मुहूर्त शास्त्र में […]

पूजा करते समय भूलकर भी जमीन पर ना रखे ये चीज़ें नहीं मिलता पूजा का फल

पुजा”क्या हैं? pooja kya hain? पूजा या पूजन एक प्रार्थना अनुष्ठान है जो हिंदू द्वारा एक या अधिक देवताओं की मेजबानी, सम्मान और पूजा करने के लिए किया जाता है, या एक आध्यात्मिक रूप का जश्न हैं। “पुजा”” शब्द का मतलब ? pooja ka matlab? शब्द “पुजा” संस्कृत से आता है, और इसका मतलब सम्मान, […]