Shiv
0
भोलेनाथ को चढ़ा दे सबसे प्यारी चीज होगी हर इच्छा पूरी
0

शिव को अतिप्रिय पत्रों में बिल्व पत्र का महत्व सर्वाधिक हैं. बिल्व पत्ते के तीन पत्ते शिव के तीन नेत्रों के प्रतीक अगर हम कहे तो कोई आश्चर्य नहीं होगा, शिव को ...

0
शिव स्तुति से मिलती हैं संकटो से मुक्ति
0

शिव बहुत जल्दी(importance of shiv stuti) प्रसन्न होने वाले देव हैं, इसलिए ही उन्हें आशुतोष कहा जाता हैं. अनेक धर्मग्रथों में शिव से संबंधित अनेक स्तुतियाँ हैं, ...

0
सुचिन्द्रम मंदिर : त्रिदेव  यहाँ पधारे थे  शिशु रूप में !!!!
0

सृष्टि के त्रिदेव के रूप में ब्रह्मा ,विष्णु, महेश जी माने जाते हैं, वैसे तो ब्रह्मा , विष्णु और महेश के अनेको मंदिर भारत की भूमि में हैं पर जहा पर त्रिदेव एक ...

0
ग्रेनाइट से निर्मित  बृहदेश्वर विश्व का पहला मंदिर !!!!
0

Brihadeeswarar Temple भारत देवो की भूमि रही हैं यहाँ के कण कण में ईश्वर विद्यमान हैं, भारत के हर राज्य में ईश्वर को समर्पित अनेक मंदिर, धाम देवस्थान हैं, ऐसा ...

0
मुरुद्वेश्वर स्थित  शिव के आत्मलिंग का बहुत बड़ा महत्व
0

दक्षिण भारत मंदिरो और और मंदिरो से सम्बंधित वास्तुकला के लिए प्रसिद्ध हैं जितनी सुन्दर और भव्य कला वह स्थित मंदिरो की हैं वैसी शिल्पकला विश्व में कही देखने को ...

0
एक रोचक कथा, कैसे हुआ भगवान शिव जन्म ?
0

Bhagwan Shiv ka janam kaise hua in hindi दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है की bhagwan shiv ka janam kaise hua तथा इससे सम्बन्धित एक रोचक कथा. हमारे हिन्दू ...

0
माँ गंगा के मृत्युलोक में अवतरण का दिन हैं गंगा दशहरा
0

गंगा दशहरा (Information about India Ganga Dussehra 2018) गंगा माँ के धरती पर अवतरण का दिन हैं.ऐसी मान्यता हैं इसी दिन माँ गंगा स्वर्ग से धरा की गोद में उतरी ...

0
बहुत ही महत्वपूर्ण है भगवान शिव से जुड़े यह सात रहस्य !
0

भगवान शिव से जुड़े यह सात रहस्य देवों के देव महादेव, भोलेनाथ, शिव शंकर भगवान, ॐ नम: शिवाय | एक परम दिव्य तत्व के तीन भाग ( ब्र्ह्मा, विष्णु, शिव ) का अंतिम भाग ...

0
आज इस तरह करे भगवान शिव की पूजा, सुख शांति से घर भर देंगे भोलेबाबा !
0

BholeNath: भगवान शिव बहुत भोले हैं, यदि कोई भक्त सच्ची श्रद्धा से उन्हें सिर्फ एक लोटा पानी भी अर्पित करे तो भी वे प्रसन्न हो जाते हैं. इसीलिए उन्हें भोलेनाथ ...

0
lord shiva history in hindi-भगवान शिव और धरती के आरम्भ से जुड़ा यह रहस्य जान हैरानी में पड़ जाओगे आप भी !
0

Lord shiva history in hindi धरती के भी आरम्भ के समय लगभग 15 - 20 हजार वर्ष पूर्व जब वराह काल की शुरवात हो रही थी तब देवी देवताओ द्वारा धरती में पहली बार कदम ...

0
क्या आप जानते है की भगवान शिव , विष्णु और ब्रह्मा के पिता कौन हैं?
0

A Story About Brahma Vishnu And Shiva देवताओ में त्रिदेव का सबसे अलग स्थान है जिसमे ब्रह्मा को सृष्टि का रचियता, भगवान् विष्णु (lord vishnu) को संरक्षक और ...

0
Oldest Shiv temple in India  | भारत में स्थित प्राचीन शिव मंदिर
0

Oldest Shiv Temples in India राजराजेश्वर शिव (oldest Shiv temples in India)अपने सरल और भक्तो पर जल्दी प्रसन्न होने के कारण तीनो लोको में वंदनीय हैं, शिव की ...

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general