Community, Directory list

0
Amalaki Ekadashi March 2021 Date (मार्च 2021 आमलकी एकादशी)
1

हिंदू पंचांग के अनुसार आमलकी एकादशी(Amalaki Ekadashi) 2021 में 25 मार्च (25 March), गुरुवार को मनायी जानी है. हर वर्ष यह शुक्ल पक्ष की एकादशी को मनायी ...

6
आपके नाम का पहला अक्षर बताता है आपका भविष्य, जाने आखिर कैसे ?
7

Name se jane bhavishya in hindi यह बात बिलकुल सत्य है की जब तक हम किसी व्यक्ति को बिलकुल करीब से नहीं जान लेते हम उसके चरित्र एवं स्वभाव का अनुमान नहीं लगा ...

1
जानिये काल सर्प योग कारण और प्रभाव !!!kaal sarp dosh nivaran
1

kaal sarp dosh nivaran काल सर्प योग (kaal sarp yog) को अगर हम साधारण भाषा में परिभाषित करे तो यह हमारे किसी पूर्व जन्म के अपराधों का परिणाम हैं,जो हमारी कुंडली ...

0
शनि दोष और शनि दोष से  निवारण से सम्बंधित उपाय-shani dosha nivarana
0

shani dosha nivarana शनि ग्रह को सभी ग्रहो में बहुत क्रूर गृह माना गया हैं। शनि (shani dosh)न्याय के देवता माने जाते हैं। एक न्यायप्रिय देवता होने के कारण शनि ...

0
छठ पर्व  2021 की पूरी जानकारी और विधि : बिहार में इन जगहों पर खूब लोकप्रिय है छठ का त्योहार
0

सूर्य उपासना के प्रमुख पर्व के रूप में छठ का पर्व बहुत बड़े पर्व के रूप में उत्तर भारत के बिहार, झारखण्ड , नेपाल की तराई और और पूर्वी उत्तर प्रदेश में मनाया ...

0
सांस्कृतिक एकता  का प्रतीक हैं, गणेशोत्सव
0

गणेश विघ्न हर्ता, और सुख समृद्दिप्रदान करने वाले देव हैं , उनकी पूजा हमारे सारे कष्टों का विनाश करती हैं, और हमें सुख सम्पन्नता देती हैं.गणेश चतुर्थी  ...

0
Kamal Gatta Importance : कमलगट्टे की माला से होगा माँ लक्ष्मी का घर में आगमन
0

माता लक्ष्मी से जुड़े , और धन प्राप्ति के लिए सहायक प्रतीकों में से एक कमलगट्टे की उपयोगिता (kamal gatta importance) बहुत महत्वपूर्ण हैं. कमलगट्टे की माला सुख ...

0
स्फटिक ( बिल्लौर ) माला की उपयोगिता और इससे होने वाले लाभ
1

स्फटिक एक रत्न की तरह होता हैं,(sphatik mala uses) स्फटिक एक पारदर्शी रत्न होता हैं , यह एकदम कांच जैसा और पारदर्शी होता हैं, इसकी विशेषता हैं, की इसे आप ...

0
प्रभु श्री राम और देवी दुर्गा के विजय का पर्व हैं दशहरा
0

अश्विन मास में शुक्ल अक्ष की दशमी तिथि को दशहरा ( Dussehra) का पर्व मनाया जाता हैं. इस पर्व को मनाने के पीछे महतपूर्ण कारण श्री राम की लंका पर विजय थी, ...

0
सुचिन्द्रम मंदिर : त्रिदेव  यहाँ पधारे थे  शिशु रूप में !!!!
0

सृष्टि के त्रिदेव के रूप में ब्रह्मा ,विष्णु, महेश जी माने जाते हैं, वैसे तो ब्रह्मा , विष्णु और महेश के अनेको मंदिर भारत की भूमि में हैं पर जहा पर त्रिदेव एक ...

0
स्वास्थ्य वास्तु और लक्ष्मी कारक हैं गोमती चक्र
0

एक दुर्लभ वस्तु के रूप में गोमती वस्तु का महत्व (importance of gomti chakra ) बहुत अधिक हैं, गोमती चक्र में निर्मित चक्र प्रकृति की ही देन हैं. गोमती चक्र ...

0
सुख समृद्धि के लिए फेंग शुई के आसान से उपाय- feng shui to attract money |feng shui tips|
0

feng shui tips हमारे आस पास के माहौल में दो तरह की ऊर्जा होती हैं, सकारात्मक और नकारात्मक . जहा सकारात्मक ऊर्जा व्यक्ति को ऊर्जावान विचारो से भर देती हैं, वही ...

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general