हाथ की ये रेखा बताती है आपके के भाग्य में धन योग

हर व्यक्ति की एक दबी हुई इच्छा रहती है कि वो अमीर बने। साथ ही कुछ लोग अपना भाग्य जानने के लिए हाथों की रेखाएं भी देखते हैं, लेकिन हाथों में फैली कई रेखाओं के बीच उन्हें पता नहीं चल पाता कि आखिर उन्हें धन लाभ होगा या नहीं।

लेकिन गौर किया जाए तो बिना ज्योतिषि को दिखाए आप जान सकते हैं कि आपके हाथ में धन योग है या नहीं। साथ ही किस उम्र में धन लाभ की संंभावनाएं हैं।हथेली में धन रेखा जीवन रेखा की तरह हर व्यक्ति की हथेली में एक स्‍थान से शुरू नहीं होती है।

व्यक्ति की हथेली में धन की रेखा अलग-अलग स्‍थानों से और अलग-अलग रेखाओं और पर्वतों से म‌िलकर बनी होती है। भाग्य और हृदय रेखा को काटने वाली रेखा को भी धन रेखा माना जाता है। इसके अलावा आपके हाथ में छोटी-छोटी रेखाओं में भी धन प्राप्ति की संभावनाएं छुपी होती है।

 

बहुत से लोग यह मानते हैं कि‌ पुरुषों का दायां हाथ देखना चाहि‌ए और लड़कियों की बायां, लेकिन आप ऐसा न करें। आप उस हथेली को देखिए जो आपका कर्म हाथ है यानी अगर आप दाएं हाथ से जीवन के महत्वपूर्ण कार्यों को करते हैं तो दाईं हथेली और बाएं हाथ से काम करते हैं तो बाईं हथेली देखिए। यह बात स्त्री पुरूष दोनों के लिए समान रूप से लागू होती है।

अगर आपकी हथेली में जीवन रेखा, भाग्य रेखा और मस्ति‌ष्क रेखा से मि‌लकर एम आकृति बन रही है, तो यह संकेत है कि‌ आप 35 से 55 साल के बीच खूब धन कमाएंगे। इस रेखा का मतलब यह भी होता है कि आपके जीवन में धन का आगमन विवाह के बाद तेजी से होगा। वि‌वाह के बाद ही आप नौकरी या व्यवसाय में उन्नति‌ की ओर बढऩा शुरू करेंगे।

अंगूठे के पास से नि‌कलकर रेखा बुध पर्वत यानी छोटी उंगली की जड़ तक पहुंचे तो इसका मतलब है कि‌ आप अपने परिवार के सदस्यों की पैतृक संंपत्ति कि‌सी स्‍त्री के सहयोग से प्राप्त कर सकते हैं। इसक अर्थ ये है कि आप 20-25 वर्ष की उम्र में अमीर बन सकते हैं।

आपकी हथेली में भाग्य रेखा से नि‌कलकर एक रेखा सूर्य पर्वत पर पहुंच रही है तो आप आर्थि‌क मामलों में भाग्यशाली होंगे। आप सामाज‌िक क्षेत्र में प्रत‌िष्ठ‌ित भी होंगे। साथ ही किसी भी उम्र में धन आगमन की संभावनाएं खुली रहेगी।

Releated Post:

हाथ की सात रेखा जिन्हे देख कोई खुद भी जान सकता है अपना भविष्य !

यदि आपके हथेली ( hastrekha ) में है राजयोग तो आप होंगे मालामाल, खुद जाने !

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general