ज्योतिष शास्त्र में लिखे ये 11 उपाय बहुत ही शक्तिशाली है, देवी लक्ष्मी खुद दौड़ी चली आएँगी आपके घर !

आज के अशांति के युग में प्रत्येक मनुष्य सम्पत्ति के लिए लालायित रहता है. क्योकि बिना सम्पत्ति जीवन की कोई आवश्यकता पूरी नहीं होती. जिसके पास धन है. उसके पास सब कुछ है. सारे गुण, अवगुण सम्पत्ति में बसते है.किन्तु लक्ष्मी प्राप्ति  (laxmi prapti ke upay) की चाहत सभी को होती है. बहुत से लोग ऐसे है, जो पूजा उपासना नहीं कर पाते या विधि विधान मालूम नहीं होता है. ऐसे लोगो के लिए कुछ सरल एवं प्रभावशाली उपाय बताये जा रहे है. उन उपायों से कुछ कर अपना जीवन संवारे.

दीपावली के दिन एक अखंडित पीपल का पत्ता तोड़ लाइये. इसे अपने पूजा के स्थान अथवा घर के किसी पवित्र स्थान में रख दीजिये. इससे अगले पड़ने वाले शनिवार को एक नया पीपल का पत्ता तोड़ लाइये और पुराने वाले के स्थान पर नया वाला पत्ता रख दे. पुराना पत्ता घर के बाहर किसी पेड़ के नीचे डाल दीजिये. प्रत्येक शनिवार को यह क्रम नियमित दोहराते रहिये.

1 .प्रात: काल उठकर सर्वप्रथम दौनों हाथों की हथेलियों को कुछ क्षण देखकर दर्शन करें. फिर अपने चेहरे पर ३ – ४ बारे फैरे.

2 . व्यापार संबंधी लेखाबही में, रोकड़ में पत्राचार करते समय उस पर केशर या हल्दी के छींटे देने के प्रचलन आदि काल से है.

3 . बैंक में पैसा जमा करवाते समय मन ही मन लक्ष्मी का कोई भी एक मन्त्र जपें. जैसे ओउम् महल्क्ष्मये नम:

4 . सत्पात्र, सज्जन या बुजुर्गों को प्रसन्न करके आशीर्वाद अवश्य ले.

5 भोजन के लिए बनाई जा रही पहली रोटी या एक चम्मच चावल (भात) या जो भी भोजन बना हो, उसमें से कुछ भाग गाय को खिलाएँ.

6 . घर की रसोई में किसी भी दिन काली तुम्बी लाकर टांग दे.

7 .घर में स्थापित या टंगे हुए देवी देवताओं के चित्रों को कुमकुम, चंदन, पुष्पमाला आदि से श्रृंगारित करे.

8 . चीटियों को शक्कर मिश्रित आटा अवश्य खिलायें.

9 . प्रात: काल नाश्ते के पूर्व घर में झाड़ू अवश्य लगा ले.

10 . सफेद वस्तुओं का दान करने से लक्ष्मी योग बनता है.

11 . गुरुवार के दिन किसी भी महिला को सुहाग सामग्री दान में देने का क्रम बनाएँ.

अन्य जानकारियाँ :-

सुबह उठते ही जप ले ये चमत्कारी मंत्र रातो रात बने करोड़पति

यदि हो रही हे धन की परेशानी तो राशि अनुसार जरूर अपनाये एक बार यह उपाय !

सफलता के कुछ मंत्र जो भगवन हनुमान ने भी अपनाए

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general