अद्भुत है महिमा शिरडी के साईं बाबा की !

sai baba mahima

sai baba mahima :

शिरडी के श्री सांईबाबा बेहद अद्भुत थे। हालांकि बाबा स्वयं अपने बारे में यह नहीं कहा करते थे कि वे भगवान हैं लेकिन उनके भक्त और श्रद्धालु उन्हें ईश्वर का अवतार मानते थे। भगवान श्री सांई बाबा के चमत्कार (sai baba mahima)साक्षात् लोगों द्वारा देखे गए थे।

कभी उनमें श्री राम के कभी श्री विट्ठल के कभी श्री कृष्ण और कभी शिव जी के दर्शन हो जाया करते थे। कभी लोगों को शिरडी में ही तीर्थ दिखाई देने लगते। बाबा कई सारी बातों को जान लिया करते थे।

एक बार द्वारिका माई में श्री शिरडी के सांई बाबा आटा पीस रहे थे। मगर जब ग्रामीणों ने देखा तो वे द्वारकामाई की ओर आए लेकिन बाबा से कुछ कह पाने का साहस ये लोग नहीं जुटा सके। ऐसे में कुछ स्त्रियां आगे आईं। उन्होंने बाबा की लीलाओं का गायन किया। बाबा स्त्रियों पर कुछ क्रोधित हुए थे लेकिन बात में वे प्रसन्न हुए और स्त्रियों ने उस आटे को पीस दिया।

स्त्रियों ने आटे के चार भाग कर अपने – अपने हिस्से का आटा ले लिया और जाने लगीं तभी श्री सांई बाबा क्रोधित हो गए। बाबा ने स्त्रियों को डांटा और कहा कि किसके बाप का माल हड़प कर ले जा रही हो। बाबा ने कहा इस आटे को शिरडी की सीमा में बिखेर दो। उस समय क्षेत्र में हैजा फैला हुआ था। आटे को स्त्रियों ने शिरडी की सीमा में डाल दिया।

शिरडी वासियों की रक्षा हैजे से हुई। तात्पर्य अर्थ में बाबा ने आटे के तौर पर भक्तों के पापों, दुर्भाग्यों, मानसिक और शारीरिक तापों को भक्ति और कर्म के दो पाटों में पीस दिया।

साईं बाबा के अद्भुत चमत्कार !