shani dev chalisa
0
जानिए कौन है शनिदेव?
0

शनिदेव - कैसे हुआ जन्म और कैसे टेढ़ी हुई नजर shani dev का नाम सुनते ही हम सब में एक डर की भावना आ जाती है | shani dev को बहुत की कुरुर देवता माना जाता है | पर ...

0
शनि की रहस्यकथा: अपराधी कौन?
0

Shani Dev Story in Hindi : हमारे सौर मंडल के दूर सिरे पर स्थित शनि ग्रह के बारे में एक पहेली सुलझा ली गई। ग्रह के गिर्द मौजूद उन छल्लों या वलयों के बारे में, ...

0
शनि देव को इस तरह तेल चढाकर आप कर रहे है भयंकर पाप, पहुचने वाला है नुक्सान
0

shani dev aarti हिंदू समाज, यह शनि देव को तिल तेल में स्नान करने का औचित्य है। सभी पीड़ा और दर्द को शांत करने का प्रतीक है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, एक बार ...

0
जब हनुमानजी ने शनिदेव को सबक सिखाया
0

story of hanuman and shani dev : शनिदेव के घमंड के किस्से मशहूर हैं। रूद्र के बारहवें अवतार और भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त हनुमानजी का ध्यानभंग करने की सजा ...

0
ब्रह्माण्ड के दंडाधिकारी – शनि देव !
0

shani dev maharaj  : शनि देव बहुत ही दयालु एवं न्याय प्रिय देवता हैं, दुष्कर्मो की वे कठोर सजा देते है अतः उन्हें क्रूर माना जाता है, जबकि ऐसा नहीं है. ...

0
शनि की आयु पर शुभ दृष्टि हर बला से बचाए
0

shani dev ki mahima  : शनि जहाँ मारक है, वहीं मोक्ष का दाता भी है। शनि जहाँ उम्र बढ़ाता है, वहीं काल के गाल में समा लेता है। शनि की शुभ स्थिति मौत से भी ...

0
महिलाएं क्यों नहीं तेल चढ़ाती शनिदेव को?
0

womens are not allowed in shani temple : वैसे तो शनि के संबंध में कई कथाएं है। आप सभी तो यह जानते ही हैं कि शनिदेव की दृष्टि जिस पर भी पड़ जाती है उसके जीवन ...

0
कैसे पाएं शनि की वक्र दृष्टि में मनोवांछित फल
0

shani dev effects : जीवन के उतार-चढ़ाव तथा भाग्य में सुख-शांति को प्रदान करने वाले शनि ग्रह मंगलवार रात्रि से वक्री होंगे। 20 जून 2012 तक शनि की वक्र दृष्टि से ...

0
शनि ग्रह के लिए पूजें स्थावरेश्वर महादेव को
0

skanda puran : पौराणिक कथा : स्कंदपुराण(skanda puran) के अवंतिखण्ड में भगवान सूर्य की पत्नी संज्ञा जब अपने पति के प्रखर तेज से पीड़ित होने लगी, तब उन्होंने ...

0
जानिए शिंगणापुर में जन्मे शनि देव के बारे में
0

Shani Shingnapur : पुराणों और शास्त्रानुसार कश्यप मुनि के वंशज भगवान सूर्यनारायण की पत्नी स्वर्णा (छाया) की कठोर तपस्या से ज्येष्ठ मास की अमावस्या को सौराष्ट्र ...

Mereprabhu
Logo
Enable registration in settings - general